अपात्र खुद सरेंडर करें अपने राशन कार्ड : अतुल गर्ग


खाद्य एवं रसद राज्यमंत्री अतुल गर्ग ने रविवार को अंत्योदय राशन कार्ड का वितरण किया। उन्होंने गरीबी की रेखा से नीचे गुजारा करने वाले 6 परिवारों को अंत्योदय कार्ड देकर इसके वितरण की शुरुआत की। इस दौरान उन्होंने आपूर्ति विभाग के अफसरों को निर्देश दिए कि ऐसी व्यवथा करें जिससे एक भी पात्र परिवार राशन कार्ड बनने से छूटे नहीं।

कविनगर स्थित अपने आवास पर आयोजित कार्यक्रम में अतुल गर्ग ने अंत्योदय कार्ड बनवाने और उसके वितरण में आम लोगों से भी सहयोग का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि पात्र परिवारों के राशन कार्ड बनवाना भी समाज सेवा का हिस्सा है। इस दौरान उन्होंने कहा कि जिन अपात्र परिवारों ने गलती से राशन कार्ड बनवा लिए हैं वे स्वयं ही अपने राशन कार्ड को सरेंडर करने की पहल करें।

राज्यमंत्री ने बताया कि अंत्योदय राशन कार्ड अति निम्न आय वर्ग वाले परिवारों का ही बनाया जाता है। इस कार्ड से सरकार की ओर से हर महीने 20 किलो गेहूं 2 रुपये किलो के हिसाब से और 15 किलो चावल 3 रुपये प्रति किलो के हिसाब से दिया जाता है। प्रत्येक कार्ड धारक हर महीने 2 लीटर मिट्टी का तेल भी प्रदान किया जाता है। उन्होंने बताया कि लाइनपार क्षेत्र में ही अब तक लगभग 8 हजार राशन कार्ड बनवाए जा चुके हैं। अंत्योदय राशन कार्ड मिलने वाले परिवारों में अनीता मेहरा, रीना देवी, शकीला बेगम, कमलेश शर्मा, विमला देवी और प्रभा शुक्ला रही। इस अवसर पर राजेंद्र मित्तल, शिवमोहन गर्ग, आनंद, सौरभ जायसवाल, निशांत, दिव्यांशु एवं मीडिया प्रभारी नीरज गोयल उपस्थित थे।